Gajar ka Halwa recipe in Hindi

गाजर का हलवा (Gajjar Halwa Recipe, Carrot Halva Recipe)

सर्दी का मौसम ही होता है खाने-पीने का मौसम। इस मौसम में एक से बढ़कर एक स्वादिष्ट मौसमी व्यंजन खाने को जी मचलता है। गाजर सर्दी के मौसम में सस्ती मिलती है। गाजर का इस्तेमाल सब्जी से लेकर कई चीजों में होता है। लेकिन, गाज़र का हलवा! आ..हा..हा…हा…। किसे पसंद नहीं होता गाजर का हलवा खाना। मगर, मज़ा तभी है जब आपको खुद आता हो बनाना।

गाजर के हलवे की बात ही कुछ और है। यह स्वाद में जितना मजेदार होता है, उतना ही सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। सर्दी के दिनों में बनाए जाने की वजह से गाजर के हलवे को लोग न्यू ईयर डिश भी बोलने लगे हैं। नये साल के मौके पर मेहमान को गाजर का हलाव बनाकर खिलाएं। फिर बताएं कि नया साल यादगार रहता है या नहीं। बिल्कुल रहेगा अगर, आप इस हिन्दुस्तानी देशी स्टाइल के डिज़र्ट को मौलिक अंदाज में बनाते हैं। ये मौलिक अंदाज क्या है। आइए हम आपको बताते हैं।

आवश्यक सामग्री::

गाजर : 500 ग्राम
चीनी: 150 ग्राम
खोया: 150 ग्राम
घीव: 100 ग्राम
काजू और बदाम: 50 ग्राम
इलाइची पाउडर: आधा चम्मच




gajar-ka-halwa-recipe-in-hindi-biharirecipesgajar-ka-halwa-in-hindi-biharirecipes

बनाने की विधि::


सबसे पहले गाजर को पानी से धो लें। गाजर के पीछे का हिस्सा भी थोड़ा काट लें। इसकी वजह ये है कि इसी हिस्से से गाजर सूखना शुरू होता है। अब गाजर के टुकड़ों को कद्दूकश से बारीक कटिंग कर लें।

गाजर कसने के बाद कड़ाही को गर्म करें। जब कड़ाही गर्म हो जाए तो कद्दूकश से बारीक कटे हुए गाजर को इसमें डाल दें। अब अच्छी तरह भूनना शुरू करें। थोड़ी देर बाद गाजर हल्का पानी छोड़ने लगेगा। यही सही समय है, जब आप इसमें चीनी मिला दें। अब ढक्कन से कड़ाही को ढंक दें। आंच धीमी कर दें। आंच धीमी करने से गाजर अच्छी तरह पक जाता है और स्वाद भी बनता है।

बीच-बीच में गाजर को चलाते रहें ताकि जलने का ख़तरा न रहे। एक समय आएगा जब गाजर का पानी पूरी तरह से कड़ाही में सूख जाएगा। खोया मिलाने के लिए यही समय सही होता है। फिर गाजर को खोये के साथ भूनना जारी रखें। अब काजू-बादाम के छोटे-छोटे टुकड़े (अध दरा) कर लें। फिर इसे हलवे में मिला लें। जब खोया डालने के बाद बचा-खुचा पानी भी सूख जाए तो गैस बंद कर दें।

ऊपर से इलाइची पाउडर डालें और अच्छी तरह मिला लें। आपका गाजर का हलवा (Gajar Ka Halwa) तैयार है। इसे कांच के बाउल में चम्मच के साथ परोस दें। इसका प्यारा भूरा रंग, इससे निकलती सुगंधित भाप मेहमान को स्वत: आकर्षित करेगा। और, जब गाजर का हलवा मेहमान के मुंह में जाएगा तो मुंह से बस यही निकलेगा- वाह भाई वाह। मज़ा आ गया।

Related posts

Leave a Comment